Best Hindi Shayari Collection Shayari In Hindi

Ab Ke Ab Tasleem Kar Lein Tu Nahi Toh Main Sahi,
Kaun Manega Ke Hum Mein Se Bewafa Koi Nahi.
अब के अब तस्लीम कर लें तू नहीं तो मैं सही,
कौन मानेगा कि हम में से बेवफा कोई नहीं।

Hindi Shayari

Hindi Shayari

Mere Fan Ko Tarasha Hai Sabhi Ke Nek Iraadon Ne,
Kisi Ki Bewafai Ne Kisi Ke Jhoothhe Vaadon Ne.
मेरे फन को तराशा है सभी के नेक इरादों ने,
किसी की बेवफाई ने किसी के झूठे वादों ने।

Hindi Shayari Collection

Abhi Se Kyun Chhalak Aaye Tumhari Aankh Mein Aansoo,
Abhi Chhedi Kahan Hai Daastaan-e-Zindagi Maine.
अभी से क्यों छलक आये तुम्हारी आँख में आँसू,
अभी छेड़ी कहाँ है दास्तान-ए-ज़िंदगी मैंने।

Jab Lafz Thak Gaye Toh Phir Aankhon Ne Baat Ki,
Jo Aankhein Bhi Thak Gayin Toh Ashqon Se Baat Hui.
जब लफ्ज़ थक गए तो फिर आँखों ने बात की,
जो आँखें भी थक गयीं तो अश्कों से बात हुई।

Kyun Meri Tarah Raaton Ko Rahta Hai Pareshaan,
Ai Chaand Bata Kis Se Teri Aankh Ladi Hai.
क्यूँ मेरी तरह रातों को रहता है परेशाँ,
ऐ चाँद बता किस से तेरी आँख लड़ी है।

Muntazir Hoon Ke Sitaaron Ki Jara Aankh Lage,
Chaand Ko Chhat Pe Bula Lunga Ishaara Kar Ke.
मुन्तज़िर हूँ कि सितारों की जरा आँख लगे,
चाँद को छत पे बुला लूँगा इशारा करके।

Suna Hai Usko Mohabbat Duaayein Deti Hai,
Jo Dil Pe Chot Toh Khaye Magar Gila Na Kare.
सुना है उस को मोहब्बत दुआएँ देती है,
जो दिल पे चोट तो खाए मगर गिला न करे।

Behtreen Hindi Shayari

Ye Na Poochh Main Sharabi Kyun Hua, Bas Yoon Samajh Le,
Ghamo Ke Bojh Se, Nashe Ki Botal Sasti Lagi.
ये ना पूछ मैं शराबी क्यूँ हुआ, बस यूँ समझ ले,
गमों के बोझ से, नशे की बोतल सस्ती लगी।

Woh Har Baar Mujhe Chhod Ke Chali Jati Hai Tanha,
Main Mazboot Bahut Hoon Lekin Patthar Toh Nahi Hoon.
वो हर बार मुझे छोड़ के चली जाती है तन्हा,
मैं मज़बूत बहुत हूँ लेकिन कोई पत्थर तो नहीं हूँ।

Kuchh Kar Gujarne Ki Chaah Mein Kahan Kahan Se Gujre,
Akele Hi Najar Aaye Hum Jahan-Jahan Se Gujre.
कुछ कर गुजरने की चाह में कहाँ-कहाँ से गुजरे,
अकेले ही नजर आये हम जहाँ-जहाँ से गुजरे।

Har Aahat Par Saanse Lene Lagta Hai,
Intezaar Bhi Bhala Kabhi Marta Hai.
हर आहट पर साँसें लेने लगता है,
इंतज़ार भी भला कभी मरता है।

Ye Jo Patthar Hai Aadmi Tha Kabhi,
Iss Ko Kahte Hain Intezar Miyaan.
ये जो पत्थर है आदमी था कभी,
इस को कहते हैं इंतज़ार मियां।

Best Hindi Shayari

Mere Toh Dard Bhi Auron Ke Kaam Aate Hain,
Mein Ro Padoo Toh Kayi Log Muskurate Hain.
मेरे तो दर्द भी औरों के काम आते हैं,
मैं रो पडूँ तो कई लोग मुस्कराते है।

Unke Husn Ka Aalam Na Puchhiye,
Bas Tasveer Ho Gaya Hun Tasveer Dekh Kar.
उनके हुस्न का आलम न पूछिये,
बस तस्वीर हो गया हूँ, तस्वीर देखकर।

Na Dekhna Aayina Kabhi Bhool Kar Dekho,
Tumhare Husn Ka Paida Jawab Kar Dega.
न देखना कभी आईना भूल कर देखो
तुम्हारे हुस्न का पैदा जवाब कर देगा।

Ajeeb Si Aadat Aur Ghazab Ki Fitrat Hai Meri,
Mohabbat Ho Ke Nafrat Ho Bahut Shiddat Se Karta Hoon.
अजीब सी आदत और गज़ब की फितरत है मेरी,
मोहब्बत हो कि नफरत हो बहुत शिद्दत से करता हूँ।

Tum Bahete Paani Se Ho Har Shakl Mein Dhal Jaate Ho,
Main Ret Sa Hoon Mujhse Kachche Ghar Bhi Nahi Bante.
तुम बहते पानी से हो हर शक्ल में ढल जाते हो,
मैं रेत सा हूँ मुझसे कच्चे घर भी नहीं बनते।

New Hindi Shayari

Khusiyon Ki Chaah Thi Wahan Be-Hisaab Gham Nikle,
Bewafa Tu Nahi Sanam Bad-Naseeb Toh Hum Nikle.
खुशियों की चाह थी वहां बे-हिसाब ग़म निकले,
बेवफा तू नहीं सनम बद-नसीब तो हम निकले।

Ye Dooriyan Toh Mita Doon Main Ek Pal Mein Magar,
Kabhi Kadam Nahi Chalte Kabhi Raste Nahi Milte.
ये दूरियाँ तो मिटा दूँ मैं एक पल में मगर,
कभी कदम नहीं चलते कभी रास्ते नहीं मिलते।

Tujhse Dur Rah Kar Kuchh Yun Waqt Gujara Maine,
Na Honthh Hile Fir Bhi Tujhe Pal Pal Pukara Maine.
तुझसे दूर रहकर कुछ यूँ वक़्त गुजारा मैंने,
ना होंठ हिले फिर भी तुझे पल-पल पुकारा मैंने

Dil Hai Kadmon Pe Kisi Ke Sar Jhuka Ho Ya Na Ho,
Bandgi Toh Apni Fitrat Hai Khuda Ho Ya Na Ho.
दिल है कदमों पे किसी के सर झुका हो या न हो,
बंदगी तो अपनी फ़ितरत है ख़ुदा हो या न हो।

Bas Deewangi Ki Khatir Teri Gali Mein Aate Hain,
Varna Aawargi Ke Liye Toh Saara Shahar Pada Hai.
बस दीवानगी की खातिर तेरी गली मे आते हैं,
वरना आवारगी के लिए तो सारा शहर पड़ा है।

Top Hindi Shayari

Meri Jagah Koi Aur Ho Toh Cheekh Uthhe,
Main Apne Aap Se Itne Sawaal Karta Hoon.
मेरी जगह कोई और हो तो चीख उठे,
मैं अपने आप से इतने सवाल करता हूँ।

Yakeen Tha Ke Tum Bhool Jaaoge Mujhko,
Khushi Hai Ke Tum Ummeed Par Khare Utre.
यकीन था कि तुम भूल जाओगे मुझको,
खुशी है कि तुम उम्मीद पर खरे उतरे।

Baad-e-Fanaa Fizool Hai Naamo-Nishaan Ki Fikr,
Jab Hum Nahi Rahe Toh Rahega Mazaar Kya.
बादे-फना फिजूल है नामोनिशां की फिक्र,
जब हम नहीं रहे तो रहेगा मजार क्या?

Zindagi Baithi Thi Apne Husn Pe Phooli Hui,
Maut Ne Aate Hi Saara Rang Feeka Kar Diya.
ज़िंदगी बैठी थी अपने हुस्न पे फूली हुई,
मौत ने आते ही सारा रंग फीका कर दिया।

Humne Socha Ke Do Char Din Ki Baat Hogi Lekin,
Tere Gham Se Toh Umr Bhar Ka Rishta Nikal Aaya.
हमने सोचा कि दो चार दिन की बात होगी लेकिन,
तेरे ग़म से तो उम्र भर का रिश्ता निकल आया।

Latest Hindi Shayari

Khuda Ne Puchha Kya Saza Doon Uss Bewafa Ko,
Dil Ne Kaha Mohabbat Ho Jaye Use Bhi.
खुदा में पूछा क्या सज़ा दूँ उस बेवफ़ा को,
दिल ने कहा मोहब्बत हो जाए उसे भी।

Jaate-Jaate Uske Aakhiri Alfaz Yahi The,
Jee Sako Toh Jee Lena Mar Jaao Toh Behtar Hai.
जाते-जाते उसके आखिरी अल्फाज़ यही थे,
जी सको तो जी लेना मर जाओ तो बेहतर है।

Chalo Dil Ki Adla-Badli Kar Lein,
Tadap Kya Hoti Hai Samajh Jaoge.
चलो दिल की अदला-बदली कर लें,
तड़प क्या होती है समझ जाओगे।

Ishtehaar De Do Ke Ye Dil Khali Hai,
Wo Jo Aaya Tha Kirayedaar Nikla.
इश्तेहार दे दो कि ये दिल खाली है,
वो जो आया था किरायेदार निकला।

Woh Na Aayega Humein Malum Tha Iss Shaam Bhi,
Intzaar Uska Magar Kuchh Soch Kar Karte Rahe.
वो न आएगा हमें मालूम था इस शाम भी,
इंतज़ार उस का मगर कुछ सोच कर करते रहे।

Hindi Shayari Collection

Aankho Ne Jarre-Jarre Par Sajde Lutaye Hain,
Kya Jaane Ja Chhupa Hai Mera PardaNashin Kahan.
आँखों ने जर्रे-जर्रे पर सजदे लुटाये हैं,
क्या जाने जा छुपा मेरा पर्दानशीं कहाँ।

Log Muntzir Hi Rahe Ke Humein Toota Hua Dekhein,
Aur Hum The Ke Dard Sahte-Sahte Patthar Ke Ho Gaye.
लोग मुन्तज़िर ही रहे कि हमें टूटा हुआ देखें,
और हम थे कि दर्द सहते-सहते पत्थर के हो गए।

Jaane-Tanha Pe Gujar Jayein Hajaro Sadmein,
Aankh Mein Ashq Bhi Aayein Yeh Jaroori To Nahi.
जाने-तन्हा पे गुजर जायें हजारो सदमें,
आँख में अश्क भी आयें ये जरूरी तो नहीं।

Wahan Se Paani Ki Ek Boond Bhi Na Nikli,
Tamaam Umr Jin Aankhon Ko Jheel Likhte Rahe.
वहाँ से पानी की एक बूँद भी न निकली,
तमाम उम्र जिन आँखों को झील लिखते रहे।

Piro Diye Mere Aansoo Hawa Ne Shaakhon Mein,
Bharam Bahaar Ka Waaki Raha Aankhon Mein.
पिरो दिये मेरे आँसू हवा ने शाखों में,
भरम बहार का वाकी रहा आँखों में।

Shayari Hi Shayari

Tujhe Bahut Kaha Tha Ke Mujhe Apna Na Bana,
Ab Dil Mera Tod Kar Mera Tamasha Na Bana.
तुझसे बहुत कहा था कि मुझे अपना न बना,
अब दिल मेरा तोड़ कर मेरा तमाशा न बना।

Jab Likh Hi Diya Hai Tu Ne Mera Naam Ret Par,
Mitne Ka Fir Mere Tu Tamasha Bhi Dekh Le.
जब लिख ही दिया है तूने मेरा नाम रेत पर,
मिटने का फिर मेरे तू तमाशा भी देख ले।

Sukoon Na De Sakin Rahatein Zamane Bhar Ki,
Jo Neend Aayi Tere Gham Ki Chhaon Mein Aayi.
सुकून न दे सकीं राहतें ज़माने भर की,
जो नींद आई तेरे ग़म की छाँव में आई।

Ab Toh Meri Aankh Mein Ek Ashq Bhi Nahi,
Pahle Ki Baat Aur Thi Gham Tha Naya Naya.
अब तो मेरी आँख में एक अश्क भी नहीं,
पहले की बात और थी ग़म था नया नया।

Peete The Sharab Hum Usne Chhudayi Apni Kasam Dekar,
Mehfil Mein Yaaron Ne Pila Di Usi Ki Kasam Dekar.
पीते थे शराब हम उसने छुड़ाई अपनी कसम देकर,
महफ़िल में यारों ने पिलाई उसी की कसम देकर।

Shayari In Hindi

Takleef Ye Nahin Ke Tumhein Azeez Koi Aur Hai,
Dard Tab Hua Jab NajarAndaz Koye Gaye.
तकलीफ ये नहीं कि तुम्हें अज़ीज़ कोई और है,
दर्द तब हुआ जब हम नजरंदाज किए गए।

Tod Diye Maine Ghar Ke Aayine Sabhi,
Pyar Mein Haare Huye Log Mujhse Dekhe Nahi Jate.
तोड़ दिए मैंने घर के आईने सभी,
प्यार में हारे हुए लोग मुझसे देखे नहीं जाते।

Aaj Ashq Se Aankhon Mein Kyun Aaye Hue,
Gujar Gaya Hai Zaman Tujhe Bhulaye Hue.
आज अश्क से आँखों में क्यों हैं आये हुए,
गुजर गया है ज़माना तुझे भुलाये हुए।

Tu Ishq Ki Doosari Nishani De De Mujhko,
Aansoo Toh Roj Gir Ke Sookh Jate Hain.
तू इश्क की दूसरी निशानी दे दे मुझको,
आँसू तो रोज गिर कर सूख जाते हैं।

Le Gaya Chheen Ke Kaun Aaj Tera Sabr-o-Qaraar,
Be-Qaraari Tujhe Ai Dil Kabhi Aisi Toh Na Thi.
ले गया छीन के कौन आज तेरा सब्र-ओ-करार,
बेक़रारी तुझे ऐ दिल कभी ऐसी तो न थी।

Maanind-e-Shama Yoon Toh Jale Hain Tamaam Umar.
Lekin Humaare Dil Ke Andhere Na Kam Huye.
मानिंद-ए-शमां यूँ तो जले हैं तमाम उम्र,
लेकिन हमारे दिल के अँधेरे न कम हुए।

हिंदी शायरी

Wo Ladenge Kya Ke Jo Khud Par Fida Hain,
Hum Ladenge… Hum Khudaon Se Lade Hain.
वो लड़ेंगे क्या कि जो खुद पर फ़िदा हैं,
हम लड़ेंगे… हम ख़ुदाओं से लड़े हैं।

Sabab Talash Karo… Apne Haar Jaane Ka,
Kisi Ki Jeet Pe Rone Se Kuchh Nahi Hoga.
सबब तलाश करो… अपने हार जाने का,
किसी की जीत पर रोने से कुछ नहीं होगा

Aafat Toh Hai Woh Naaz Bhi Andaaj Bhi Lekin,
Marta Hun Main Jis Par Woh Adaa Aur Hi Kuchh Hai.
आफ़त तो है वो नाज़ भी अंदाज़ भी लेकिन,
मरता हूँ मैं जिस पर वो अदा और ही कुछ है।

Mujhe Duniya Ki Eidon Se Bhala Kya Vasta Yaaro,
Humara Chaand Dikh Jaye Humari Eid Ho Jaye.
मुझे दुनिया की ईदों से भला क्या वास्ता यारो,
हमारा चाँद दिख जाये हमारी ईद हो जाये।

Jab Se Dekha Hai Chand Ko Tanha,
Tum Se Bhi Koi Shikayat Na Rahi.
जब से देखा है चाँद को तन्हा,
तुम से भी कोई शिकायत ना रही।

Chup Hain Kisi Sabr Se Toh Patthar Na Samajh,
Dil Pe Asar Hua Hai Teri Baat Baat Ka.
चुप हैं किसी सब्र से तो पत्थर न समझ हमें,
दिल पे असर हुआ है तेरी बात-बात का।

Kabhi Ulajh Pade Khuda Se Kabhi Saqi Se Hangama,
Na Namaaz Adaa Ho Saki Na Sharab Pee Sake.
कभी उलझ पड़े खुदा से कभी साक़ी से हंगामा,
ना नमाज अदा हो सकी ना शराब पी सके।

Nateeja BeWajah Mehfil Se Uthhwane Se Kya Hoga,
Na Honge Hum Toh Saqi Tere Maikhane Se Kya Hoga.
नतीजा बेवजह महफिल से उठवाने का क्या होगा,
न होंगे हम तो साकी तेरे मैखाने का क्या होगा।

Le De Ke Apne Paas Faqat Ek Najar Toh Hai,
Kyun Dekhein Zindagi Ko Kisi Ki Najar Se Hum.
ले दे के अपने पास फ़क़त एक नजर तो है,
क्यूँ देखें ज़िंदगी को किसी की नजर से हम।

Shayari In Hindi

Shayari In Hindi

Nafrat Si Hone Lagi Hai Iss Safar Se Ab,
Zindagi Kahin Toh Pahucha De Khatm Hone Se Pehle.
नफरत सी होने लगी है इस सफ़र से अब,
ज़िंदगी कहीं तो पहुँचा दे खत्म होने से पहले।

Bewaqt Bewajah Besabab Si Berukhi Teri,
Phir Bhi Beinteha Chahne Ki Bebasi Meri.
बेवक्त बेवजह बेसबब सी बेरुखी तेरी,
फिर भी बेइंतहा तुझे चाहने की बेबसी मेरी।

Dekhi Hai Berukhi Ki Aaj Humne Intehaan,
Hum Pe Najar Padi Toh Mehfil Se Uthh Gaye.
देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ,
हमपे नजर पड़ी तो वो महफ़िल से उठ गए।

Khamoshyian Kar Deti Bayaan Toh Alag Baat Hai,
Kuchh Dard Hain Jo Lafzo Mein Utaare Nahi Jate.
खामोशियाँ कर देतीं बयान तो अलग बात है,
कुछ दर्द हैं जो लफ़्ज़ों में उतारे नहीं जाते।

Ab Toh Haathon Se Lakeerein Bhi Miti Jati Hain,
Usey Khokar Mere Paas Raha Kuchh Bhi Nahi.
अब तो हाथों से लकीरें भी मिटी जाती हैं,
उसे खोकर मेरे पास रहा कुछ भी नहीं।

Kured-Kured Kar Bade Jatan Se Humne Rakhe Hain Hare,
Kaun Chahta Hai Ke Unka Diya Koi Zakhm Bhare.
कुरेद-कुरेद कर बड़े जतन से हमने रखे हैं हरे,
कौन चाहता है कि उनका दिया कोई ज़ख्म भरे।

Ehsaan Kisi Ka Woh Rakhte Nahi Mera Bhi Chuka Diya,
Jitna Khaya Tha Namak Mera Mere Zakhmo Pe Laga Diya.
एहसान किसी का वो रखते नहीं मेरा भी चुका दिया,
जितना खाया था नमक मेरा मेरे जख्मों पे लगा दिया।

Dil Se Dil Mile Ya Na Mile Haath Milaao,
Humko Ye Saleeka Bhi Badi Der Se Aaya.
दिल से दिल मिले या न मिले हाथ मिलाओ,
हमको ये सलीका भी बड़ी देर से आया।