Friendship Shayari Dosti Shayari In Hindi

तेरे इश्क़ की अब ज़रूरत नहीं है हमे
हमें तो नफरत ने संभाल लिया
हमे अब नही है हसरत तेरी दोस्ती की
हमे तो अब दुश्मनो ने पाल लिया

Friendship Shayari

Friendship Shayari

Fark To Apni Apni Soch Me Hai Jnaab
Warna Dosti Bhi Mohabbat Se Kam Nhi Hoti

New Friendship Shayari Collection

Hmari Barbadi Ka To Koi Sikwa Nahi Hai Hme
Afsos Sirf Itna Hai Ki Tune Kyu Sath Nhi Diya

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे

Manga tha maut to zindagi de di
Andheron me bhi roshni de di
khuda se pucha kya tohfa hai mere liye
To usne hume aapki dosti de di

Zindagi K Tufano Ka Sahil Hai Teri Dosti
Dil Ke Armaano Ki Manzil Hai Teri Dosti
Zindagi Bhi Ban Jayegi Apni To Jannat
Agar Maut Aane Tak Sath De Teri Dosti

उसके साथ रहते रहते हमे चाहत सी हो गयी
उससे बात करते करते हमे आदत सी हो गयी
एक पल भी न मिले तो न जाने बेचैनी सी रहती है
दोस्ती निभाते निभाते हमे मोहब्बत सी हो

Dosti Shayari In Hindi

Khabar SunKar Marne Ki Wo Bole Raqeebo Se,
Khuda Bakhse Bahut Si Khoobiyan Thi Marne Wale Mein.
खबर सुनकर मरने की वो बोले रक़ीबों से,
खुदा बख्शे बहुत-सी खूबियां थीं मरने वाले में।

Kahin Saagar Labalab Hain Kahin Khaali Pyale Hain,
Yeh Kaisa Daur Hai Saqi Yeh Kya Taqseem Hai Saqi.
कहीं सागर लबालब हैं कहीं खाली पियाले हैं,
यह कैसा दौर है साकी यह क्या तकसीम है साकी।

Meri Tabahi Ka iljaam Ab Sharab Par Hai,
Karta Bhi Kya Aur Tum Par Jo Aa Rahi Thi Baat.
मेरी तबाही का इल्जाम अब शराब पर है,
करता भी क्या और तुम पर जो आ रही थी बात।

Dard Humne Sambhala Hai Humne Aansu Bahaye Hain,
Beshak Wajah Tum The Par Dil Toh Humara Tha.
दर्द हमने संभाला है हमने आँसू बहाए हैं,
बेशक वजह तुम थे पर दिल तो हमारा था।

Yeh Bhi Ek Zamana Dekh Liya Hai Humne,
Dard Jo Sunaya Apna Toh Taliyan Baj Uthhi.
यह भी एक ज़माना देख लिया है हम ने,​
​दर्द जो सुनाया अपना तो तालियां बज उठीं​।

Friendship Shayari In Hindi

JinKe Hothhon Pe Hansi Paanv Mein Chhale Honge,
Wahi Log Apni Manzil Ko Pane Wale Honge.
जिन के होंटों पे हँसी पाँव में छाले होंगे,
वही लोग अपनी मंजिल को पाने वाले होंगे।

Mere Haathon Ki Lakeeron Ke Izaafe Hain Gawah,
Maine Patthar Ki Tarah Khud Ko Tarasha Hai Bahut.
मेरे हाथों की लकीरों के इज़ाफ़े हैं गवाह,
मैने पत्थर की तरह खुद को तराशा है बहुत।

Mohabbat Nahi Hai Qaid Milne Ya Bichhadne Ki,
Yeh Inn Khudgarz Lafzo Se Bahut Aage Ki Baat Hain.
​​मोहब्बत नहीं है क़ैद मिलने या बिछड़ने की​,
ये इन खुदगर्ज़ लफ़्ज़ों से बहुत आगे की बात है।

Haal Jab Bhi Puchho Khairiyat Batate Ho,
Lagta Hai Mohabbat Chhod Di Tumne.
हाल जब भी पूछो खैरियत बताते हो,
लगता है मोहब्बत छोड़ दी तुमने।

Lakh Talwarein Badi Aati Hon Gardan Ki Taraf,
Sar Jhukana Nahi Aata Toh Jhukayein Kaise.
लाख तलवारे बढ़ी आती हों गर्दन की तरफ,
सर झुकाना नहीं आता तो झुकाए कैसे।

Friendship Day Shayari

Humko Mita Sake Yeh Zamane Mein Dam Nahi,
Humse Zamana Khud Hai Zamane Se Hum Nahi.
हमको मिटा सके यह ज़माने में दम नहीं,
हमसे ज़माना ख़ुद है ज़माने से हम नहीं।

Kabhi Khole Toh Kabhi Zulf Ko Bikhraye Hai,
Zindagi Shaam Hai Aur Shaam Dhali Jaye Hai.
कभी खोले तो कभी ज़ुल्फ़ को बिखराए है,
ज़िंदगी शाम है और शाम ढली जाए है।

Pehle Se Un Kadamon Ki Aahat Jaan Lete Hain,
Tujhe Ai Zindagi Hum Dur Se Pehchaan Lete Hain.
पहले से उन कदमों की आहट जान लेते हैं,
तुझे ऐ ज़िंदगी हम दूर से पहचान लेते हैं।

Adhuri Mohabbat Mili Toh Neendein Bhi Ruthh Gayin,
Gumnaam Zindgi Thi Toh Kitne Sukoon Se Soya Karte The.
अधूरी मोहब्बत मिली तो नींदें भी रूठ गयी,
गुमनाम ज़िन्दगी थी तो कितने सकून से सोया करते थे।

Gumnaami Ka Andhera Kuchh Iss Tarah Chha Gaya Hai,
Ke Daastan Ban Ke Jeena Bhi Humein Raas Aa Gaya Hai.
गुमनामी का अँधेरा कुछ इस तरह छा गया है,
कि दास्ताँ बन के जीना भी हमें रास आ गया है।

Beautiful Dosti Shayari

Bas Ek Mera Hi Haath Nahi Thama Usne,
Varna Girte Huye Kitne Hi Sambhale Usne.
बस एक मेरा ही हाथ नहीं थामा उसने,
वरना गिरते हुए कितने ही संभाले उसने।

Kitna Wakif Thi Woh meri Kamjori Se,
Wo Ro Deti Thi Aur Main Har Jata Tha.
कितना वाकिफ थी वो मेरी कमजोरी से,
वो रो देती थी, और मैं हार जाता था।

Roye Kuchh Iss Tarah Se Mere Jism Se Lagke Wo,
Aisa Laga Ke Jaise Kabhi BeWafa Na The Wo,
रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लग के वो,
ऐसा लगा कि जैसे कभी बेवफा न थे वो।

ilaahi Kyun Nahi Uthhti Qayamat Majra Kya Hai,
Humare Samne Pahlu Mein Woh Dushman Ke Baithe Hain.
इलाही क्यूँ नहीं उठती क़यामत माजरा क्या है,
हमारे सामने पहलू में वो दुश्मन के बैठे हैं।

Tum Kitne Dur Ho Mujhse Main Kitna Paas Hun Tumse,
Tumhein Pana Bhi Namumkin Tumhein Khona Bhi Namumkin.
तुम कितने दूर हो मुझसे मैं कितना पास हूँ तुमसे,
तुम्हें पाना भी नामुमकिन तुम्हें खोना भी नामुमकिन।

Best Dosti Shayari

Doorie Ne Kar Diya Hai Tujhe Aur Bhi Kareeb,
Tera Khayal Aa Kar Na Jaye Toh Kya Karein.
दूरी ने कर दिया है तुझे और भी करीब,
तेरा ख़याल आ कर न जाये तो क्या करें।

Woh Andhera Hi Sahi Tha Ke Kadam Rah Par The,
Roshni Le Aayi Mujhe Manzil Se Bahut Dur.
वो अँधेरा ही सही था कि कदम राह पर थे,
रोशनी ले आई मुझे मंजिल से बहुत दूर।

Main Paa Nahi Saka Iss Kashmkash Se Chhutkara,
Tu Mujhe Jeet Bhi Sakta Tha Magar Haara Kyun?
​मैं पा नहीं सका इस कशमकश से छुटकारा​,
तू मुझे जीत भी सकता था मगर ​हारा क्यूँ​।

Shokhi Se Thhaherati Nahi Qatil Ki Najar Aaj,
Yeh Barq-e-Bala Dekhiye Girti Hai Kidhar Aaj.
शोख़ी से ठहरती नहीं क़ातिल की नज़र आज,
ये बर्क़-ए-बला देखिए गिरती है किधर आज।

Jabin Par Saadgi, Neechi Nigahein, Baat Mein Narmi,
Mukhatib Kaun Kar Sakta Hai Tumko Lafze-Qatil Se.
जबीं पर सादगी, नीची निगाहें, बात में नरमी,
मुखातिब कौन कर सकता है तुमको लफ्जे-कातिल से।

Shayari On Dosti

Kitni Fikr Hai Kudrat Ko Meri Tanhayi Ki,
Jagte Rahte Hain Raat Bhar Sitare Mere Liye.
कितनी फ़िक्र है कुदरत को मेरी तन्हाई की,
जागते रहते हैं रात भर सितारे मेरे लिए।

Meri Tanhayian Karti Hain Jinhein Yaad Sadaa,
Unn Ko Bhi Meri Jarurat Ho Jaroori Toh Nahi.
​मेरी तन्हाइयां करती हैं ​जिन्हें याद सदा,
उन को भी मेरी ज़रुरत हो ज़रूरी तो नहीं।

Baith Kar Sochte Hain Ab Ke Kya Khoya Kya Paya,
Unki Nafrat Ne Tode Bahut Meri Wafa Ke Ghar.
बैठ कर सोचते हैं अब कि क्या खोया क्या पाया,
उनकी नफरत ने तोड़े बहुत मेरी वफ़ा के घर।

Woh Nafratein Paale Rahe Hum Pyar Nibhate Rahe,
Lo Yeh Zindgi Bhi Kat Gayi Khaali Haath Si.
वो नफरतें पाले रहे हम प्यार निभाते रहे,
लो ये जिंदगी भी कट गयी खाली हाथ सी।

Bas Yehi Baat Ke Kisi Ko Na Chaho Dil Se,
Tajurbe Iss Ke Siwa Umr Ko Kya Dete Hai.
बस यही बात कि किसी को ना चाहों दिल से,
तज़ुर्बे इस के सिवा उम्र को क्या देते हैं।

Hindi Friendship Shayari

Qabron Mein Nahi Humko Kitaabon Mein Utaro,
Hum Log Mohabbat Ki Kahani Mein Mare Hain.
क़ब्रों में नहीं हम को किताबों में उतारो,
हम लोग मोहब्बत की कहानी में मरे हैं।

NoteBandi Ka Ek Yeh Bhi Asar Najar Aaya,
Woh Bewafa Fir Se Mere Dar Pe Najar Aaya,
नोटबंदी का एक ये भी असर नजर आया,
वो बेवफा फिर से मेरे दर पे नजर आया।

Kuchh Aise Haadse Bhi Hote Hain Zindgi Mein Dost,
Hajaar Ka Note Rakhne Wale Sau Rupaye Mangte Hain.
कुछ ऐसे हादसे भी होते है जिंदगी में दोस्त,
हजार का नोट रखने वाले सौ रुपये मांगते हैं।

Kis Jagah Rakh Dun Main Teri Yaad Ke Chirag Ko,
Ke Roshan Bhi Rahun Aur Hatheli Bhi Na Jale.
किस जगह रख दूँ मैं तेरी याद के चराग़ को,
कि रोशन भी रहूँ और हथेली भी ना जले।

Ujaale Apni Yaadon Ke Hamaare Saath Rahne Do,
Na Jaane Kis Gali Mein Zindagi Ki Shaam Ho Jaaye.
उजाले अपनी यादों के हमारे साथ रहने दो,
न जाने किस गली में जिंदगी की शाम हो जाए।

Friendship Shayari in English

Do Chaar Aansoo Hi Aate Hain Palkon Ke Kinare Pe,
Warna Aankhon Ka Samandar Gehra Bahut Hain.
दो चार आँसू ही आते हैं पलकों के किनारे पे,
वर्ना आँखों का समंदर गहरा बहुत है।

Woh Ashq Ban Ke Meri Chashm-e-Tar Mein Rahta Hai.
Ajeeb Shakhs Hai Paani Ke Ghar Mein Rahta Hai.
वो अश्क बन के मेरी चश्म-ए-तर में रहता है,
अजीब शख़्स है पानी के घर में रहता है।

Woh Sharmayi Surat Woh Neechi Nigahein,
Woh Bhule Se Unka Idhar Dekh Lena.
वो शरमाई सूरत वो नीची निगाहें,
वो भूले से उनका इधर देख लेना।

Iss Saadgi Pe Kaun Na Mar Jaye Ai Khuda,
Ladte Hain Aur Haath Mein Talwar Bhi Nahi.
इस सादगी पे कौन न मर जाए ऐ ख़ुदा,
लड़ते हैं और हाथ में तलवार भी नहीं।

Kisi Bhi Mushkil Ka Ab Kisi Ko Hal Nahi Milta,
Shayad Ab Ghar Se Koi Maa Ke Pair Chhukar Nahi Nikalta.
किसी भी ​मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता,
​शायद अब घर से कोई माँ के पैर छूकर नहीं निकलता​।

Zindagi nahin humein doston se pyaari
Doston pe haazir hai jaan hamaari
Aankhon mein hamaari aansoon hai toh kya
Jaan se bhi pyaari hai muskaan tumhaari

दिल से दिल बड़ी मुश्किल से मिलते हैं
तुफानो में साहिल बड़ी मुश्किल से मिलते हैं
यूँ तो मिल जाता है हर कोई मगर
आप जैसे दोस्त नसीब वालों को मिलते हैं

Sabki Zindagi Me Khusiya Dene Wale Dost
Teri Zindagi Me Koi Gum Naa Ho
Tujhe Tab Bhi Dost Milte Rahe Acche Acche
Jab Es Duniya Me Hum Naa Ho

किस हद तक जाना है ये कौन जानता है
किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है
दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो
किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है

Dosti nazaro se ho to use kudarat kahate hai
Sitaro se ho to use jannat kahate hai
Husan se ho to use mohabbat kahate hai
Aur dosti aapse ho to use kismat kahate hai

Friendship Shayari In Hindi

Friendship Shayari In Hindi

अच्छा दोस्त एक फूल की तरह होता है
जिसे हम छोड़ भी नहीं सकते और
तोड़ भी नहीं सकते तोड़ दिया तो मुरझा जाएंगे
और छोड़ दिया तो कोई और ले जाएगा

Teri Dosti Ne Diya Sookoon Itna
Ki Tere Baad Koi Accha Bhi Na Lage
Tujhe Karni Ho Bewafai To Es Kadar Karna
Ki Tere Baad Koi Bewafa Bhi Na Lage

करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले

Dosti ki judaai ka gham mat karna
Door rehke bhi dosti kam mat karna
Agar milaaye zindagi kisi modh pe
To humein dekh kar aankhein band mat karna

कभी अनकही बातों की अदा है दोस्ती
कभी गम की दवा है दोस्ती
कमी है पूजने वालों की
वरना ज़मीन पर खुदा है दोस्ती.

Karoge yaad ek din dosti ke zamane ko
Hum chale jayenge ek din wapis na ane ko
zikr jab chhed dega koi mehfil mein humara
chale jaoge tanhai mein aansoo bahane ko

वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे
तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे
रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर
यह बात और है जिन्दगी वफा न करे

Zindagi Me Yaad Hmari Bhut Aayegi
Payare Sfar Ki Har Khushi Ruk Jaaegi
Agar Tlash Kroge Humse Accha Koy Dost
To Nigahe Door Tak Jaakar Fir Lout Aayegi

दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है

Dosti Ki Mahek Ishq Se Kam Nahi Hoti
Ishq Pe Hi Zindgi Khatm Nahi Hoti
Agar Sath Ho Zindgi Mein Achche Doston Ka
Zindagi Kisi Jannat Se Kam Nahi Hoti

दिन हुआ है तो रात भी होगी
हो मत उदास, कभी बात भी होगी
इतने प्यार से दोस्ती की है
जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी

Dosti mein duriyaan toh aati jaati rehti hain
Fir bhi dosti dilon ko milati rehti hain
Woh dost hi kya jo naaraz na ho
Par sachchi dosti doston ko manati rehti hain

वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे
तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे
रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर
यह बात और है जिन्दगी वफा न करे

Aapkee Dosti Per Maan Hai Mujhe
Kall Tha Jitna Bhrosa Utna Aaj Hai Mujhe
Dost Voh Nhi Jo Sukh Mein Saath Rahe
Dost Vahi Hai Jo Hardum Apnepan Ka Ehsass De

दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करू
आप भूल भी जाओ तो मे हर पल याद करू
खुदा ने बस इतना सिखाया हे मुझे
कि खुद से पहले आपके लिए दुआ करू

करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले

Apni Taklif Me Mujhe Umid Samjhna.
koi Gam Aaye To Aapne Najdik Samjhna.
de Saku Hansi Us Ansu Ke Badle To
hajaro Ke Bich Mujhe Sabse Krib Samjhna

दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करू
आप भूल भी जाओ तो मे हर पल याद करू
खुदा ने बस इतना सिखाया हे मुझे
कि खुद से पहले आपके लिए दुआ करू

एक पहचान हज़ारो दोस्त बना देती हैं
एक मुस्कान हज़ारो गम भुला देती हैं
ज़िंदगी के सफ़र मे संभाल कर चलना
एक ग़लती हज़ारो सपने जला कर राख देती है

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे

दोस्ती नज़रो से हो तो उसे कुदरत कहते है
सितारों से हो तो उसे जन्नत कहते है
हुस्न से होतो उसे मोहब्बत कहते है
और दोस्ती आपसे हो तो उसे किस्मत कहते है

करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले

सबसे अलग सबसे न्यारे हो आप
तारीफ कभी पुरी ना हो इतने प्यारे हो आप
आज पता चला कि जमाना क्यों जलता है हमसे
क्यों कि दोस्त तो आखिर हमारे हो आप
Wo Patthar Kha Milta Hai Btana Zra Ae Dost
Jise Log Dil Par Rakhkar Ek Doosre Ko Bhool Jate Hai

दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता हे
कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो गुजारो
वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे
Chehra Dekh Kar Dosti Karti Hai Ab Duniya
Dil Ke Andar Ab Jhakta Hi Kun Hai

Pyaar Se Accha Bhi Ek Rishta Hota Hai
Wo Hota Hai Dosti Ka Kyuki Dost Bewfa Nahi Hota

शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये
जीवन के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ

Ek Saal Me 50 Dost Bnaana Aam Baat Hai
Pr 50 Saal Me Ek Hi Se Dosti Nibhana Khaas Baat Hai

Hum Jeete Hai Khushi Pane Ke Liae Ae Dost Too Haath Bdhake To Dekh
Kya Hoti Hai Khusi Hum Baithe Hai Eska Aehsas Dilane Ke Liae

हर आरजू हमेशा अधूरी नहीं होती
दोस्ती में कभी दूरी नहीं होती
जिनके दिल में आप जैसे दोस्त रहते हों
उनके लिए तो धड़कन भी ज़रूरी नहीं होती